गाँव का इतिहास

उटलोधा गाँव की स्थापना 1917 ईस्वी में हुई| पहले गाँव दूसरी जगह बसा हुआ था |सन 1917 में साबी नदी में बाड आने की वजह से पूरा गाँव पानी में डूब गया| इस वजह से पूरा गाँव उँचाई पर बस गया|बार बार स्थानांतरण की वजह से इसका नाम उटलोधा पड़ा | More »

पंचायत का इतिहास

सन 1952 मे 3 गाँवो क्रमश:पतसिनी ,छबिली,व उटलोधा की पंचायत बनी जिसके सरपंच पंडित रतन लाल शर्मा पुत्र श्री गणेशी लाल शर्मा बने |ये लगातार 20 साल तक सरपंच रहे |1959 में उटलोधा की पंचायत अलग बन गयी जिसमे सरपंच रतन लाल जी बने | More »

 

उटलोधा ग्राम पंचायत

SHIV MANDIR

उटलोधा गाँव की स्थापना 1917 ईस्वी में हुई| पहले गाँव दूसरी जगह बसा हुआ था |सन 1917 में साबी नदी में बाड आने की वजह से पूरा गाँव पानी में डूब गया| इस वजह से पूरा गाँव उँचाई पर बस गया|बार बार स्थानांतरण की वजह से इसका नाम उटलोधा पड़ा |गाँव डाबला से कई सौ बरस पहले मुला राम जी ने ये गाँव बसाया था|जिसके 3 लड़के हुए ,पहला मुकन्दा, दूसरा हरी सिंह व तीसरा छज्जू राम |